4th March 2024

उत्तर प्रदेश

शाही भोज’ में शामिल हुईं प्राण प्रतिष्ठा का साक्षी बनने पहुंचीं देश की नामचीन हस्तियां

प्राण प्रतिष्ठा समारोह की पूर्व संध्या पर डेढ़ सौ चुनिंदा मेहमानों को रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने राज सदन में 'शाही भोज' में आमंत्रित किया। इसमें फिल्म से लेकर खेल जगत के लोग शामिल रहे।

नव्य और भव्य मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का साक्षी बनने देश की कई नामचीन हस्तियां रविवार को अयोध्या पहुंच गईं। इनमें से कई ने यहां आने के बाद रामनगरी की अलौकिक छवि को निहारा। 22 जनवरी को राम मंदिर में होने वाले समारोह की पूर्व संध्या पर रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने डेढ़ सौ चुनिंदा मेहमानों को राज सदन में शाही भोज भी दिया। इस दौरान अयोध्या के राज परिवार ने अवध की परंपरा के अनुरूप अतिथियों की अगवानी और सत्कार किया।

समारोह के ठीक एक दिन पहले रामनगरी पहुंचने वाले विशिष्ट अतिथियों में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर संघ चालक मोहन भागवत और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार भी शामिल रहे। इनके अलावा संघ और विहिप के कई अन्य शीर्ष पदाधिकारी भी आ गए हैं। अयोध्या पहुंचने पर संघ और विहिप प्रमुख का ट्रस्ट की ओर से महासचिव चंपत राय व अन्य ट्रस्टियों ने स्वागत किया। प्राण प्रतिष्ठा समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ संघ प्रमुख भी मंच पर रहेंगे। भागवत ने ट्रस्ट महासचिव से समारोह की तैयारियों के बारे में भी जानकारी ली।

इनके अलावा अन्य खास मेहमानों में आध्यात्मिक धर्मगुरु श्री श्री रविशंकर, फिल्म अभिनेता रजनीकांत, अनुपम खेर, विवेक ओबेराय, सुनील लहरी, अभिनेत्री हेमामालिनी, दीपिका चिखलिया, फिल्म निर्देशक सुभाष घई, मधुर भंडारकर, चंद्रप्रकाश द्विवेदी, संगीतकार इलैयाराजा, शंकर महादेवन, आदिनाथ मंगेशकर, नृत्यांगना सोनल मान सिंह, पार्श्व गायिका ऊषा मंगेशकर, अनुराधा पौडवाल, कविता पौडवाल, मालिनी अवस्थी, वेट लिफ्टर कर्णम मल्लेश्वरी, फुटबाल खिलाड़ी बाईचुंग भूटिया, नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी, सेंसर बोर्ड के चेयरमैन प्रसून जोशी, धाविका पीटी ऊषा व दूरदर्शन के महानिदेशक गौरव द्विवेदी प्रमुख हैं।

इनमें से कई जाने-माने चेहरों के साथ डेढ़ सौ के करीब मेहमान रविवार की शाम ट्रस्ट के विशेष आमंत्रण पर अयोध्या राज परिवार के राज सदन पहुंचे। यहां पर राज परिवार की ओर से ट्रस्टी विमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र और प्रख्यात संगीत अध्येता यतींद्र मिश्र ने सभी का स्वागत किया। इनको शाही भोज में अवध के पारंपरिक व्यंजन परोसे गए। मेहमानों के मनोरंजन के लिए भारतीय शैली के गायन और वादन का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close