31st May 2024

उत्तर प्रदेश

ट्रैवल कंपनी के 2 अभियुक्त दे रहे थे फर्जी नौकरी,104 फर्जी वीजा सहित अन्य सामान बरामद, बेरोजगार युवकों को विदेश में नौकरी लगवाने के नाम पर कर दी लाखो की ठगी, नही लगी कोई नौकरी, फोन भी कर लेते थे बंद चढ़े पुलिस के हत्थे

ठगो की ठगी पर नही होता फर्जी होने का शक, क्योंकि मिनटों में भेज देते है वीजा से लेकर नौकरी के ज्वाइनिंग लेटर तक

नोएडा (धर्मेंद्र शर्मा): दिनांक 03.05.2024 को थाना सेक्टर-49 पुलिस द्वारा लोकल इंटेलिजेंस व गोपनीय सूचना की सहायता से फर्जी ट्रैवल कम्पनी बनाकर लोगों को विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले अभियुक्त 1.इशाक युनूस उर्फ रोबिन उर्फ जितेन्द्र पुत्र युनूस उस्मान 2.रोहित ओबराय पुत्र दिलबाग ओबराय को पीएनबी बैक के पास होशियारपुर नोएडा से गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्तों के कब्जे से 104 पासपोर्ट, 01 लैपटॉप, 06 मोबाइल, 04 फर्जी मोहरें, 31 वीजा कूटरचित, 36 फर्जी कम्पनी के वर्किंग कान्ट्रैक्ट व आई-20 कार बरामद की गयी है।

*अपराध करने का तरीकाः*

पूछताछ के दौरान ज्ञात हुआ कि अभियुक्त इशाक युनूस उर्फ रोबिन उर्फ जितेन्द्र उपरोक्त इस गैंग का सरगना है और उसके द्वारा इस काम को पिछले 06 वर्षों से अंजाम दिया जा रहा है, यह गैंग लड़कों को गुमराह करता है कि उनकी नौकरी विदेश में जार्डन, साउदी अरब, कतर आदि जैसे देशों में लगवायी जायेगी और इस काम के प्रति लड़के से 80-90 हजार रूपये लेता है, कोई कागज कम पाये जाने पर रेट बढ़ाकर उनसे और पैसें की डिमान्ड करता है। इसके द्वारा विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर अपनी फर्जी फर्म का प्रचार प्रसार किया जाता है, यह विज्ञापन देखकर जब कोई पीड़ित/बेरोजगार व्यक्ति इनकों सम्पर्क करता है, तो उसका बताया जाता है कि अगर और लड़को को लेकर आओगें तो रेट कम कर देंगे। इसके बाद उक्त बेरोजगार लड़को को विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर उनके फर्जी वीजा व कम्पनी कान्ट्रैक्ट दिखाकर उनसे पैसे ऐठते है, उन्हे कहीं भी नौकरी नही दिलायी जाती है, मौका पाकर पैसे इकट्ठा होते ही यह आफिस बंद कर भाग जाते है। यह पूर्व में दिल्ली, हरियाणा व उत्तर प्रदेश में इस तरह की घटना को अंजाम दे चुके है।

*अभियुक्तों का विवरणः*

1.इशाक युनूस उर्फ रोबिन उर्फ जितेन्द्र पुत्र युनूस उस्मान निवासी दुमैहला रोड थाना गंज, जिला रामपुर, उ0प्र0 उम्र 30 वर्ष (शिक्षा- बी0टैक0 इन इनफार्मेशन टैक्नालॉजी)
2.रोहित ओबराय पुत्र दिलबाग ओबराय निवासी विजय विहार, उत्तम नगर, दिल्ली उम्र करीब 27 वर्ष(शिक्षा बी0ए0 बीच में ही ड्राप)

*पंजीकृत अभियोग/आपराधिक इतिहास का विवरणः*

1.मु0अ0सं0 0429/23 धारा 420/419/468/471/120बी भादवि0 थाना बसन्तकुँज, साउथ दिल्ली।
2.मु0अ0सं0 0179/2024 धारा 419/420/467/468/471 भादवि0 व 12 पासपोर्ट अधिनियम थाना सै0-49, गौतमबुद्धनगर।

*बरामदगी का विवरणः*

1-104 पासपोर्ट
2-01 लैपटॉप
3-06 मोबाइल
4-04 फर्जी मोहरें
5-31 वीजा कूटरचित
6-36 फर्जी कम्पनी के वर्किंग कान्ट्रैक्ट
7-आई-20 कार

*गिरफ्तार करने वाली टीमः*

1.उ0नि0 अविनेश कुमार थाना सै0-49, गौतमबुद्धनगर।
2.उ0नि0 यूटी अनुराग द्विवेदी थाना सै0-49, गौतमबुद्धनगर।
3.हे0का0 गुलाब सिंह थाना सै0-49, गौतमबुद्धनगर।
4.का0 दिनेश थाना सै0-49, गौतमबुद्धनगर।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close