16th April 2024

क्राइमदेश

सावधान! गूगल पर इन ठगों का नंबर आता है सबसे ऊपर, देशभर के लोग बन रहे हैं इनका निशाना

देशभर के ढाई हजार से ज्यादा लोगों को ठगी का निशाना बनाने वाले जामताड़ा गैंग के 6 लोगों को पुलिस ने झारखंड के जामताड़ा से अरेस्ट किया है। अरेस्ट किए गए लोगों में गैंग का

नई दिल्लीःआउटर नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट के साइबर थाने की पुलिस टीम ने ऑनलाइन ठगी के एक बड़े गैंग का खुलासा करते हुए मास्टरमाइंड सहित 6 लोगों को झारखंड के जामताड़ा से गिरफ्तार किया है। इनके पास से 20 हजार से ज्यादा सिम कार्ड और दर्जनों हाई क्वालिटी मोबाइल फोन बरामद हुए हैं। डीसीपी आउटर नॉर्थ रवि सिंह ने बताया कि यह गैंग जामताड़ा में बैठकर पूरे देश में ठगी करता था। यह गैंग पलक झपकते ही लोगों के बैंक खाते खाली कर देता था।

बताया जा रहा है कि एमएचए पोर्टल के जरिए एक शिकायत साइबर थाने में पहुंची थी। दुबई में रहने वाले एक शख्स के साथ लाखों की ठगी हुई थी। एसीपी ऑपरेशन यशपाल सिंह की देखरेख में साइबर थाने के एसएचओ रमन कुमार, सब इंस्पेक्टर जगदीश नारा, हेड कॉन्स्टेबल संदीप व विनोद और कॉन्स्टेबल विकास की टीम ने टेक्निकल सर्विलांस की मदद से गैंग की धरपकड़ की।

जांच के दौरान पता चला कि जिस नंबर से पीड़ित से संपर्क किया गया था, वो झारखंड के जामताड़ा में चल रहा है। उसके बाद पुलिस टीम इस गैंग का पता लगाने में जुट गई। टेक्निकल सर्विलांस के आधार पर पुलिस टीम झारखंड के जामताड़ा से आगे उस जगह पहुंची जहां से गोरखधंधा चल रहा था। पुलिस टीम ने एक-एक करके छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

गूगल पर इन ठगों का नंबर आता है सबसे ऊपर

शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि ये लोग अब तक ढाई हजार से ज्यादा लोगों से करोड़ों की ठगी कर चुके हैं। ये लोग अलग-अलग स्टेट से सिम निकालते थे और कॉल करने के लिए किसी और राज्य का चयन करते थे। इससे वे पुलिस की पकड़ में नहीं आते थे। गूगल पर इनका डिटेल सबसे पहले ऊपर आता है। जब लोग इनसे संपर्क करते तो गैंग के सदस्य उन्हें झांसे में लेकर एनी डेस्क डाउनलोड करा देते थे। फिर उनकी डिटेल लेकर बैंक खाते से ट्रांजैक्शन कर लेते थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close