31st May 2024

उत्तर प्रदेश

राज्यमंत्री बृजेश सिंह का मायावती पर तंज.. एक विधायक वाले भी अब बेस्ट यूपी को बनाएंगे अलग प्रदेश

राज्यमंत्री बृजेश सिंह ने अमरोहा में कहा कि भाजपा सीएए लागू करने के साथ जनसंख्या नियंत्रण कानून भी लाएंगी। उन्होंने कहा कि देश शरीयत के आधार पर नहीं चलता।

देश शरीयत और मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के कायदे-कानून से नहीं चलता। संविधान में जो कायदे कानून बने हैं या जो संशोधन होंगे ये देश उसे आधार पर चलेगा। ओवैसी के कहने से भारत नहीं चलता है। भारत की लोकसभा और राज्यसभा में पारित नियम कायदे कानून से चलता है।

ये बात पीडब्ल्यूडी विभाग के राज्यमंत्री बृजेश सिंह ने सोमवार को अमरोहा में भाजपा कार्यालय पर प्रेसवार्ता के दौरान कहीं। उन्होंने कहा कि हम सीएए भी लागू करेंगे और जनसंख्या नियंत्रण कानून भी लेकर आएंगे। मुस्लिम समाज को खुद ही सामने आना चाहिए और समझना चाहिए।

ये सब समझदारी की बातें हैं। जो नियम-कायदे हैं क्या वह केवल भारत में है। मुस्लिम देशों में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड अपने कायदे कानून क्यों नहीं चलता है। क्या शरीयत और मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भारत के लिए बना है। सरकार ने कहा है हम टू चाइल्ड पॉलिसी लागू करेंगे।

किसी भी देश के विकास के लिए जनसंख्या को नियंत्रित करना जरूरी है। राहुल गांधी पर तंज करते हुए कहा कि कांग्रेस राजनीतिक मंचों और राजनीतिक पटल से गायब होने के कगार पर पहुंच गई है। राहुल गांधी का सौभाग्य है कि उनकी पार्टी उनके नेतृत्व में यहां तक पहुंची है

देश परिवारवाद को नकार चुका है। देश विकासवाद के मुद्दे पर आगे बढ़ चुका है। अगर राहुल गांधी हमारा संकल्प पत्र को झूठा बता रहे हैं, तो उन्होंने जो अपना घोषणा पत्र जारी किया है, उसमें 80 प्रतिशत वह चीज हैं जो 1947 में मुस्लिम लीग इस देश में लागू करना चाहती थी।

इसलिए राहुल गांधी निर्णय करें कि वह इस देश में मुस्लिम लीग का घोषणा पत्र जारी करना चाहते हैं या कांग्रेस का। मायावती के बेस्ट यूपी को अलग प्रदेश बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में उनकी पार्टी का एक विधायक है।

पिछली बार लोकसभा चुनाव में बुआ-भतीजे इकट्ठा लड़े थे तो उनके दस सांसद आए थे। यह डर है कि मायावती इस चुनाव में अपनी दलिती प्रासंगिकता ना खो दें। राहुल-अखिलेश के गठबंधन पर टिप्पणी करते हुए कहा कि दो लड़कों की जोड़ी को 2017 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की जनता देख चुकी है।

जो परिणाम तब आए थे, उससे बुरे परिणाम इस चुनाव में नजर आएंगे। इससे पहले उन्होंने भाजपा सरकार द्वारा जारी किया गया घोषणा पढ़ कर सुनाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close