21st July 2024

एक दर्जन से अधिक मुकदमे फिर भी निकला बदमाश रेकी करने, चेकिंग के दौरान हुई मुठभेड़ में थाना प्रभारी ध्रुव भूषण दूबे ने बदमाश को ठोकासेक्टर 24 थाना प्रभारी ध्रुव भूषण दूबे के द्वारा पकड़ा गया सीमेंट से भरा चोरी हुआ ट्रैक्टर, 24 घंटे में किया चोरी की घटना का खुलासासेक्टर 24 थाना प्रभारी ध्रुव भूषण दूबे ने दिनदहाड़े 17 मुकदमे वाले बदमाश को चेकिंग के दौरान मुठभेड़ में ठोकायूट्यूब पर विज्ञापन चला कर बेरोजगार युवकों को रोजगार देने के नाम पर लाखो की ठगी करने वाला गैंग चढ़ा पुलिस के हत्थे,थाना सेक्टर 24 प्रभारी ध्रुव भूषण दूबे ने चेकिंग के दौरान बदमाश को रोका तो पुलिस पर किया फायर,जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने ठोका
देश

सांसद जनरल वीके सिंह है संकटमोचक, हर बार हनुमान जी की तरह देशवासियों को आपदा से निकाल लाते है- नितिन गोयल

रिपोर्ट :राहिल कस्सार

गाजियाबाद (राहिल कस्सार ):गाजियाबाद की सरजमी भी सीना चौड़ा करके गर्व महसूस करती होगी जब वहां का सांसद देश-विदेश में तुरंत लोगों की मदद करने पहुंच जाता है। जी हाँ.. हम बात कर रहे है केंद्रीय राज्य मंत्री एवं स्थानीय सांसद जनरल वीके सिंह की जिनकी अगुवाई में उत्तरकाशी टनल हादसे में पिछले 17 दिनों से फंसे 41 मजदूरों को सुरक्षित निकालने के लिए 24 घंटे चला उत्तरकाशी टनल रेस्क्यू ऑपरेशन आखिरकार सफल हो गया। यह पहला सफल ऑपरेशन नहीं है, इससे पहले भी कई मौकों पर वे सरकार के लिए संकटमोचक साबित हुए हैं। जब कभी की देश में या विदेश में कोई आपदा वाली स्थिति बनती है, तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनरल वीके सिंह पर भरोसा करते हुए उनको सफल होने मंत्र देकर भेजते है जिसमें वो हर बार खरे उतरे हैं। वही गाजियाबाद वासी समेत पूरा देश सांसद जनरल वीके सिंह द्वारा किए गए कार्य पर खूब जमकर तारीफ करते नही थकते है। वही मुरादनगर के भाजपा मण्डल अध्यक्ष नितिन गोयल ने बताया कि जनरल वीके सिंह के गाजियाबाद के लोग मुरीद हैं। वर्ष 2015 में जब यमन में चार हजार भारतीय फंस गए थे तो उन्हें सुरक्षित भारत वापस लाने के लिए ऑपरेशन अजय चलाया गया था। उस समय विदेश राज्यमंत्री रहे जनरल वीके सिंह सरकार की उम्मीदों पर खरे उतरे और ऑपरेशन को सफल बनाते हुए लोगों को एयरलिफ्ट कर सकुशल भारत वापस कराया था। इसके बाद दक्षिण सूडान में हुए गृह युद्ध के कारण वहां भारतीय नागरिक फंस गए। तब भी जनरल वीके सिंह का विश्व की सबसे बड़ी भारतीय सेना के पूर्व अध्यक्ष होने का अनुभव काम आया। इस ऑपरेशन के बाद सुषमा स्वराज ने स्वयं ही जनरल वीके सिंह को संकटमोचन की उपाधि से नवाजा था। वही अब दीपावली वाले दिन जब टनल हादसा हुआ तो सरकार के आगे 41 लोगों की जिंदगी का संकट आ गया। सरकार ने एक बार फिर ऑपरेशन की कमान जनरल वीके सिंह को देकर उत्तरकाशी भेजा। पिछले कई दिनों से वे वहीं डेरा डाले हुए थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिशा-निर्देश का पालन करते हुए 41 जिंदगियों को बचाने का काम कर रहे थे। इस ऑपरेशन को सफलतापूर्वक पूर्ण करने पर मैं और सभी देशवासी देश के चहेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह का आभार व्यक्त करते है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close