27th February 2024

उत्तर प्रदेश

मुरादनगर पुलिस ने चंद घंटो में सुलझाई झूठे अपहृत की कहानी

ब्यूरो रिपोर्ट

गाजियाबाद पुलिस लगातार हर कदम पर अपनी कार्यशैली से आम जनता की सुरक्षा के स्तर में अव्वलता हासिल कर रही है। इसी की चलते गाजियाबाद के शहर मुरादनगर में रविवार दोपहर एक युवक के अपहृत की घटना सामने आई और उसके तुरंत बाद फिरौती के लिए फोन भी आ चुका था मगर मुरादनगर थानाध्यक्ष अपने विवेक व आला-अधिकारियों के नेतृत्व से इस मामले के लिए तुरंत टीम के साथ लग गए। थानाध्यक्ष मुकेश सौलंकी ने तुरंत युवक को कुछ ही घंटों में बरामद ही नही किया बल्कि उसकी उसके झूठे अपहृत व वसूली कहानी का भी पर्दाफ़ाश किया। आपको बता दे कि आज दिनांक 04/02/2024 को समय 13:00 बजे अपहरण की सूचना मिली जिसमे बताया गया की राहुल कुमार उम्र 32 वर्ष पुत्र अजय कुमार गांव जलालाबाद का निवासी है जो मुरादनगर एनएच 58 के पास दुकान पर अपनी गाड़ी होंडा सिटी HR 26 CM 7376 के वाइपर ठीक करा कर गंग नहर की तरफ जलालाबाद गांव गया था उसके बाद उसकी कोई खबर नही वही पिता को फिरौती के लिए फोन आने के बाद वो सभी लोग डर गए और तुरंत मुरादनगर थाने पहुंचकर मामले की जानकारी दी। वही थानाध्यक्ष मुकेश सौलंकी ने तहरीर लेकर अभियोग पंजीकृत करते हुए तत्काल टीम का गठन किया जिसमें महज कुछ ही घंटो में युवक को बरामद कर लिया और पूरे प्रकरण का खुलासा कर दिया जिसमे बताया कि राहुल नशे का सेवन करके खुद ही गाड़ी को चला रहा था जो बुलंदशहर,मेरठ गाजियाबाद,गया था। रास्ते में खुद के द्वारा अपने पिता को फोन करके बोला कि अपने लड़के की जान बचानी है तो 10 लाख रुपए लेकर आ जाओ नहीं तो तुम्हारे लड़के को मार देंगे और फोन कट कर दिया। पूछताछ में राहुल ने आगे बताया कि उस पर 20 लाख रूपए का कर्ज है इसलिए ये ड्रामा रचा मगर थानाध्यक्ष मुकेश सौलंकी व उनकी टीम ने 6 बजे दुहाई टोल से गाजियाबाद की तरफ उतरते समय राहुल को पकड़ लिया है। शहरभर ने पुलिस की इस कार्यशैली की जमकर तारीफ की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close